Share

शराब के नशे में चूर बीजेपी नेता की रफ़्तार बुलेरो ने उतारा 9 स्कूली बच्चो को मौत के घाट

 बिहार के मुजफ्फरपुर में बुलेरो की चपेट में आने से नौ बच्चों की मौत और 20 के घायल होने की घटना की पड़ताल में पता चला है कि उस गाड़ी का रजिस्ट्रेशन बीजेपी प्रदेश महामंत्री मनोज बैठा के नाम पर है|इस बात के सामने आने के बाद से राज्य के पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने बीजेपी सरकार पर निशाना साधा है. श्री कृष्णा मेडिकल कॉलेज अस्पताल में पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने पहले मृत बच्चो के परिजनों को सांत्वना दी उसके बाद मीडिया से बातचीत में कहा कि शराब के नशे में नौ बच्चो को रौंद कर मौत के घाट उतार दिया गया कई बच्चे घायल हो गए लेकिन जिला प्रशासन अब तक आरोपी चालक नहीं पकड़ सका है|

यह भी पढ़े – https://firegoesviral.in/prashantkishor/
उन्होंने कहा, ‘बीजेपी के लोग शराब के नशे में चूर हैं. जिस गाड़ी से हादसा हुआ है वो भाजपा के महामंत्री की गाडी थी. भाजपा के लोग आरोपी को संरक्षण देकर मामले से पल्ला झाड़ रहे हैं. भाजपा के नेता गाड़ी के चालक को छुपाने में लगे हुए हैं और जिला प्रशासन अब तक उसको गिरफ्तार नहीं कर सका है. ये सरकार पूरी तरफ फेल है. नेता प्रतिपक्ष ने आगे कहा, ‘मुजफ़्फ़रपुर में बच्चों को मौत की नींद सुलाने वाले बीजेपी के इस महामंत्री को उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी क्या नहीं जानते? सुशील मोदी और नीतीश कुमार के संरक्षण की वजह से नशे में धुत्त ये नेता और इनका ड्राइवर अभी तक पकड़ा नहीं गया है| गौरतलब है की मीनापुर थाना क्षेत्र के धरमपुर के पास अनियंत्रित बोलोरो ने स्कूली बच्चों को कुचल दिया था जिसमें 9 की मौत हो गई थी और 20 से ज्यादा घायल हो गए थे|

यह भी पढ़े – https://firegoesviral.in/priynkachopra/

पीड़ित से मुलाक़ात करने के बाद तेजस्वी यादव ने कहा कि 9 मासूम स्कूली छात्रों के शव देखकर दिल और दिमाग बैठ गया. पीड़ित परिवारों और घायलो से मुजफ़्फ़रपुर के अस्पताल जाकर मुलाकात की. दिन-दहाड़े 25 बच्चों को घायल और 9 बच्चों को मारने वाला दरिंदा प्रशासन की पकड़ से अभी भी बाहर है. अभी तक उस भाजपा नेता और ड्राइवर को क्यों नहीं पकड़ा गया है? शराबबंदी के बावजूद ड्राइवर शराब कैसे पिए हुए था? उसे शराब कैसे मिली? मुख्यमंत्री और उपमुख्य्मंत्री को मानवीय संवेदना के आधार पर पीड़ितों से मिलने जाना चाहिए. नीतीश सरकार बताए वह नादान बच्चों को मौत की नींद सुलाने वाले आरोपियों पर क्या कारवाई कर रही है?

Leave a Comment