Share
अमेठी में  बूथ कैप्चरिंग का झूठा आरोप लगा रहीं हैं Smriti Irani – चुनाव आयोग

अमेठी में बूथ कैप्चरिंग का झूठा आरोप लगा रहीं हैं Smriti Irani – चुनाव आयोग

UP के Amethi  से Rahul Gandhi के खिलाफ चुनाव लड़ रही Smriti Irani आये दिन गाँधी परिवार पर हमलावर दिखाई देती हैं लेकिन सायद यह तत्व के साथ अपनी बात तो रखना भूल जाती हैं . हाल ही मेन एसा ही हुआ Smriti Iraani नें आरोप लगाते हुए कहा ही Amethi  में बूथ कैप्चरिंग हुई है , लेकिन जांच पड़ताल के बाद चुनाव आयोग नें इसे पूरी तरह ग़लत करार दिया है और कहा यह इलज़ाम सारा सर झूठ है .

TV9 भारतवर्ष के लेख के अनुसार ,  आयोग ने केंद्रीय मंत्री Smriti Irani के Amethi  में बूथ कैप्चरिंग कराने के आरोप को गलत पाया है. उत्तर प्रदेश के मुख्य चुनाव अधिकारी वेंकटेश्वर लू ने कहा कि मामले की जांच करवाई गई. मौके पर सभी पार्टियों के पोलिंग एजेंट से भी पुछताछ की गई. लेकिन जांच में स्मृति के दावे आधारहीन निकले हैं.

एक महिला मतदाता द्वारा लगाया था आरोप

लोकसभा चुनाव 2019 में देश की सबसे चर्चित लोकसभा सीट Amethi  में सोमवार को पांचवें चरण के तहत मतदान हुआ था. इस दौरान Amethi  जिले की गौरीगंज विधानसभा के गूजर टोला क्षेत्र में बूथ संख्या 316 पर एक महिला मतदाता ने वहां तैनात पीठासीन अधिकारी पर कांग्रेस पार्टी के पक्ष में जबरन वोट कराने का आरोप लगाया था.


Smriti Irani ने शेयर किया था Video

Amethi  से भारतीय जनता पार्टी (BJP ) प्रत्याशी Smriti Irani ने इसे अपने ट्विटर हैंडल पर शेयर करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष Rahul Gandhi पर बूथ कैप्चरिंग का आरोप लगाया था और आयोग से इसकी शिकायत की थी. इसके बाद पीठासीन अधिकारी को तुरंत हटा दिया गया था.

‘Rahul Gandhiकरवा रहे बूथ कैप्चरिंग’

एक व्यक्ति ने महिला की शिकायत के 23 सेकेंड के एक वीडियो को अपने ट्विटर पर साझा किया था. इसे रीट्वीट करते हुए स्मृति ने कहा था, “चुनाव आयोग अलर्ट, Rahul Gandhiसुनिश्चित कर रहे हैं कि बूथ कैप्चरिंग हो.”

इस तरह Smriti Irani नें राहुल पर आरोप लगाया जिसे चुनाव आयोग नें पूरी तरह नकार दिया है . अब देखना होगा स्मृति इरानी की राजनीती में कुछ सुधार एगा की वह आगे भी झूठी बातों की बुनियाद पर लड़ाई लड़ेंगी .

Leave a Comment