Share
भीम आर्मी ने लगाईं जंतर मंतर पर मोदी सरकार के खिलाफ गुहार , कहा – ‘मोदी को दिल्ली की गद्दी तक नहीं पहुंचने देंगे’

भीम आर्मी ने लगाईं जंतर मंतर पर मोदी सरकार के खिलाफ गुहार , कहा – ‘मोदी को दिल्ली की गद्दी तक नहीं पहुंचने देंगे’

बता दें कि हॉस्पिटल में प्रियंका गाँधी से मुलाक़ात के बाद भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर आज़ाद ने शुक्रवार को दिल्ली के जंतर-मंतर से PM मोदी के खिलाफ गुहार लगाईं है और बड़ा एलान किया है. उन्होंने कहा, ‘वो पीएम नरेंद्र मोदी के ख़िलाफ़ बनारस से चुनाव लड़ेंगे.’ इसके साथ ही उन्होंने कहा कि वो पीएम मोदी को बग्घी में बिठाकर गुजरात भेज देंगे.

उन्होंने अपने समर्थकों से पूरे देश में भाजपा को हराने की अपील भी की. वहीं, पीएम पर करारा हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि ’29 पार्टियों से गठबंधन करके मोदी कहते हैं कि शेर अकेला आता है.’ उन्होंने ख़ुद का ज़िक्र करते हुए कहा कि अब जब कांशीराम का शेर बेटा बनारस जा रहा है तो दम है तो मोदी सामना करके दिखाएं. चुनाव करीब हैं और मोदी सरकार के सामने बड़ी दिक्कत बनके सामने आसक्ति है .

source: Zee news

कहा -‘लाल क़िले से नीला झंडा फहराना मेरा लक्ष्य’

चंद्रशेखर ने कहा, ‘मैं इसलिए बनारस जा रहा हूं क्योंकि मोदी दलित विरोधी हैं और उन्हें ये पता होना चाहिए कि दलित विरोधी होने की क़ीमत क्या होती है.’ चंद्रशेखर ने पीएम मोदी पर बेहद तीख़ा हमला बोलते हुए कहा, ‘जब हम एकजुट होते हैं तो लोग हमारे जूते के फ़ीते बांधने तक में गर्व महसूस करते हैं. जब मैंने बनारस से लड़ने की बात ही की थी तो मोदी हमारे समाज के लोगों के पैर धोने लगे.’ उन्होंने कहा कि दलित, ओबीसी, अल्पसंख्यकों और आदिवासियों को एकजुट करना उनका सपना है और दिल्ली के लाल क़िले से नीला झंडा फहराना उनका लक्ष्य है. वो जीएंगे तो इसी के लिए, मरेंगे तो इसी के लिए.

source: The Print

किया एलान कि -‘मोदी को दिल्ली की गद्दी तक नहीं पहुंचने देंगे’

उन्होंने कहा, ‘सरफ़रोशी की तमन्ना अब हमारी दिल में देखना है ज़ोर कितना बाजुए क़ातिल में है और वक़्त आने दे बता देंगे तुझे ए मोदी, हम अभी से क्या बताएं क्या हमारे दिल में है.’ चंद्रशेखर ने कहा कि मोदी कुछ भी कर लें, वो उन्हें दिल्ली की गद्दी तक नहीं पहुंचने देंगे. चंद्रशेखर ने आरोप लगाते हुए कहा कि पहले तो इंटरनेट बंद करके सरकार ने साबित कर दिया कि वो उनसे डरती है. वहीं, ट्रेनें रोककर सरकार ने साबित कर दिया कि ये उनका समाना नहीं कर सकती. उन्होंने ये भी कहा कि जंतर-मंतर पर संविधान जलाया गया था और इसलिए वो चाहता हैं कि संविधना घर-घर पहुंचे.

सोर्स: द प्रिंट 

Leave a Comment