Share
Modi दौबारा नहीं बनेंगे प्रधानमंत्री , जानिए किसने की यह भविष्यवाणी..

Modi दौबारा नहीं बनेंगे प्रधानमंत्री , जानिए किसने की यह भविष्यवाणी..

प्रधानमंत्री मोदी को दौबारा PM का ताज मिलेगा के नहीं यह तो चुनाव के परिणाम ही बताएँगे . लेकिन उससे पहले एक नेता द्वारा की गयी भविष्यवाणी PM मोदी के लिए कोई अच्छा संकेत नहीं है . BJP के वरिष्ठ नेता सुब्रमण्यम स्वामी लगातार अपने विवादास्पद बयानों के लिए चर्चा में रहते हैं। स्वामी ने कहा कि अगर भाजपा 220 से 230 सीटों तक सिमट गई तो संभवत: नरेंद्र मोदी दोबारा प्रधानमंत्री नहीं बन सकेंगे। उनका यह ताजा बयान नरेंद्र मोदी और भाजपा की मुश्किलें बढ़ा सकता है। खुद BJP के बड़े नेता द्वारा इस तरह के विचार रखना BJP की हाल का संकेत हो सकता है .

Modi दौबारा नहीं बनेंगे प्रधानमंत्री , जानिए किसने की यह भविष्यवाणी..
Source: LiveMint

सुब्रमण्यम स्वामी नें  एक साक्षात्कार में कहा कि मुझे लगता है कि BJP  का आंकड़ा 230 के आसपास पहुंचेगा। NDA में दूसरे सहयोगी दल करीब 30 सीटें जीतेंगे यानी NDA की 250 सीटें आनी तय हैं। सरकार बनाने के लिए हमें 30-40 सीटों की जरूरत और पड़ेगी। ऐसे में यह नए सहयोगी दलों पर निर्भर करेगा। उन्होंने कहा कि वे MODI को स्वीकार नहीं करेंगे तो मुश्किल हो सकती है। सुब्रमण्यम स्वामी द्वारा इतनी मजबूती से ये आंकड़ा बताना कोई मजबूत वजह होने का संकेत है .

सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा कि चुनाव के बाद BSP जद सरकार बनाने में मदद कर सकते हैं। इसमें परेशानी यह है कि बीजद प्रमुख नवीन पटनायक कह चुके हैं कि Modi दोबारा PM  बनने चाहिए। उन्होंने कहा कि मायावती ने अभी अपनी मंशा जाहिर नहीं की है। उत्तर प्रदेश में BSP, भाजपा के खिलाफ लड़ रही है, ऐसे में मायावती कैसे साथ आएंगीं, इस सवाल पर स्वामी ने कहा कि BSP  शामिल हो सकती है और अगर वो नेतृत्व में बदलाव चाहती हैं तो मुझे इस पर कोई आपत्ति नहीं है।

Modi दौबारा नहीं बनेंगे प्रधानमंत्री , जानिए किसने की यह भविष्यवाणी..
Source: The News Minute

अन्त में सुब्रमण्यम स्वामी नें PM मोदी का विकल्प भी सोच लिया और कहा – Modi की जगह Nitin Gadkari  प्रधानमंत्री पद के लिए विकल्प हो सकते हैं। उन्होंने कहा कि अगर ऐसा होता है तो ये बेहतरीन होगा। सुब्रमण्यम स्वामी नें Ntitn Gadkari को PM Modi से अच्छा व्यक्ति बताया और कहा की वह प्रधानमंत्री बन्ने के लायक भी हैं . अचानक सुब्रमण्यम स्वामी का इस तरह का बयान यह सोचने पर मजबूर ज़रूर रहेगा कि : हवा का रुख किस ओर है.

Source: Web Duniya

Leave a Comment