Share
अब Sim Card और IEMI नंबर बदलने के बावजूद भी लग जाएगा चोरी के Mobile का पता, जानिए कैसे ?

अब Sim Card और IEMI नंबर बदलने के बावजूद भी लग जाएगा चोरी के Mobile का पता, जानिए कैसे ?

पुरे देश में फ़ोन चोरी के मामलों के चलते या फ़ोन खो जाने के बाद ना मिलने का अब उपाय सरकार नें निकाल लिया है . अब आपका फ़ोन चोरी होक या खोकर ना मिलना आम बात नहीं है बल्कि कुछ वक़्त में पूरी कारवाही होने के बाद आपका मोबाइल फ़ोन आपके पास होगा .

अक्सर ऐसा होता है कि आपका फोन खो जाता है या फिर चोरी हो जाता है, लेकिन उसका Sim Card या IMEI  नंबर बदलने की वजह से उसका पता लगाना मुश्किल हो जाता है। सरकार अगले महीने आपकी इस समस्या का समाधान पेश करने जा रही है।

सरकार अगले एक महीने में ऐसे प्रौद्योगिकी आधारित समाधान की शुरुआत करने जा रही जिससे Sim Card या IMEI  नंबर बदले जाने के बावजूद खोए या चोरी के मोबाइल फोन का पता लगाया जा सकेगा। सेंटर फॉर डेवलपमेंट ऑफ टेलिमैटिक्स (CDO) ने प्रौद्योगिकी तैयार कर ली है और इसे अगस्त में शुरू किये जाने की उम्मीद है।

सरकार के इस कदम के चलते यह बात तो साफ़ है कि फ़ोन चोरी के चल रहे धन्दों पर रोक सा लगता दिखाई देगा क्योंकि इस सिस्टम के लागू होने के बाद फ़ोन चोरी का धंदा काफी जादा रिस्की हो जाएगा .

Digital Trends: How to find a lost phone

दूरसंचार विभाग के एक अधिकारी ने जानकारी दी, ‘सी-डॉट के पास प्रौद्योगिकी तैयार है। संसद सत्र के बाद दूरसंचार विभाग मंत्री से इस प्रणाली की शुरुआत के लिए संपर्क करेगा। यह अगले महीने लागू होनी चाहिए।’

दूरसंचार विभाग ने जुलाई, 2017 में नकली मोबाइल फोन और चोरी की घटनाओं में कमी लाने के लक्ष्य के साथ सी-डॉट को ‘सेंट्रल एक्विपमेंट आइडेंटीटी रजिस्टर’ (सीईआईआर) विकसित करने का काम दिया था। सरकार ने सीईआईआर के गठन के लिए 15 करोड़ रुपये की राशि आवंटित की थी। सीईआईआर प्रणाली Sim Card निकालने या IMEI  नंबर बदले जाने के बावजूद चोरी या खोए हुए फोन पर सभी तरह की सेवाओं को अवरुद्ध कर देगी।

Source: Amar Ujala

Leave a Comment