Share

Karnataka’s 63rd Foundation Day is being celebrated with great enthusiasm.

बेंगलुरू, 1 नवंबर,| कर्नाटक का 63वां स्थापना दिवस गुरुवार को धूमधाम के साथ मनाया जा रहा है। मुख्यमंत्री एच.डी.कुमारस्वामी ने अपने कैबिनेट सदस्यों व अन्य के साथ कांतीरावा स्टेडियम मैदान में समारोह में भाग लिया।

मुख्यमंत्री ने पीले व लाल रंग के राज्य के ध्वज को फहराया गया और इस दौरान कन्नड़ के प्रसिद्ध कवि कुवेम्पू द्वारा लिखित कर्नाटक गान गाया गया।कुमारस्वामी ने कहा, “विविधता में एकता हमारी संस्कृति है। जैसा कि कुवेम्पु ने कहा है कर्नाटक सभी धर्मो का एक शांतिपूर्ण बगीचा है। अपने शब्दों, विचारों व कार्यो में कन्नड़ को जगह दें। आइए हम एक समृद्ध कर्नाटक का निर्माण करें।”

source: latestly.com

बेंगलुरू में समारोह में हजारों छात्रों व लोगों ने भाग लिया। राज्य के छात्रों ने कई तरह के सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए।

सभी जिला मुख्यालयों पर भी स्थापना दिवस मनाया गया। उपमुख्यमंत्री जी. परमेश्वर ने तुमकुरू में समारोह में भाग लिया।

एक नवंबर, 1956 को पूर्व के बंबई व मद्रास सूबे के कन्नड़ भाषी क्षेत्र के साथ पुराने हैदराबाद क्षेत्र को पुराने मैसूर के साथ मिलाकर एक नया दक्षिणी राज्य बनाया गया।

मूल रूप से इसका नाम मैसूर था लेकिन बाद में 1973 में इसका नाम बदलकर कर्नाटक कर दिया गया।

source: THE QUINT

Leave a Comment