Share
प्रशांत किशोर बोले- JDU ने दोनों सदनों में CAA का क्यों समर्थन किया, यह सिर्फ नीतीश कुमार जी ही बता सकते हैं

प्रशांत किशोर बोले- JDU ने दोनों सदनों में CAA का क्यों समर्थन किया, यह सिर्फ नीतीश कुमार जी ही बता सकते हैं

नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (NRC) को लेकर मोदी सरकार के खिलाफ मोर्चा खोले जनता दल यूनाईटेड (JDU) के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और देश के जाने-माने चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर और सीएम नीतीश कुमार के बीच मतभेद बहुत गहरे हो चुके हैं।

नागरिकता संशोधन कानून को समर्थन करने के फैसले पर प्रशांत किशोर ने एक बार फिर सवाल उठाए हैं। समाचार एजेंसी ANI से बात करते हुए जेडीयू उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर ने सोमवार को कहा, ‘मैं यह साफ करना चाहता हूं कि जेडीयू एनआरसी और नागरिकता कानून के खिलाफ है।’

उन्होंने आगे कहा है कि, “संसदीय स्टैंडिंग कमिटी का डिसेंट नोट आप देख सकते हैं। लेकिन पता नहीं किन परिस्थिति में जेडीयू ने नागरिकता कानून का दोनों सदनों में समर्थन किया, यह तो केवल नीतीश कुमार जी ही बता सकते हैं।”

बता दें कि, प्रशांत किशोर हाल में नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) और नैशनल रजिस्टर ऑफ सिटिजंस (एनआरसी) को लेकर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को लगातार निशाना बनाते आए हैं। दरअसल, नागरिकता संशोधन कानून का जनता दल यूनाइटेड ने संसद में समर्थन किया जबकि पार्टी के ही राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर ने इसका विरोध किया।

किशोर ने सीएम नीतीश कुमार से हाल ही में हुई मुलाकात के बाद कहा था कि कहा कि जेडीयू को CAA से बहुत दिक्कत नहीं है, बशर्ते यह एनआरसी के साथ न हो। विरोध को देखते हुए बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि NRC को बिहार में लागू नहीं किया जाएगा।

Leave a Comment