Share
क्या वाकई एक और ‘सर्जिकल स्ट्राइक’ कर मुद्दा बनाने के लिए लंबा खींचा जा रहा है लोकसभा चुनाव ?? जानिए

क्या वाकई एक और ‘सर्जिकल स्ट्राइक’ कर मुद्दा बनाने के लिए लंबा खींचा जा रहा है लोकसभा चुनाव ?? जानिए

चुनाव करीब हैं और हर ओर से बयानबाजियाँ होना लाज़मी हैं |इस बीच पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री सह तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ममता बनर्जी नें फिर भाजपा पर इलज़ाम लगाते हुए  सोमवार को एक विवादित टिप्पणी में  यह कहते हुए नजर आईं कि लोकसभा चुनाव की प्रक्रिया को लंबा इसलिए खींचा गया है, ताकि भाजपा बंगाल को परेशान करने की अपनी योजना के तहत एक और हमला करा सके। ममता ने एक प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि मीडिया से उन्हें पता है कि एक और हमला(स्ट्राइक) होगा। मैं नहीं कह सकती कि किस तरह का हमला।

source: NDTV.com

अमर उजाला के लेख के अनुसार , उनके ये बोले थे- अप्रैल में तथाकथित….तथाकथित….तथाकथित के नाम पर। इसी वजह से यह (मतदान की प्रक्रिया) 19 मई तक जारी रहेगी। उन्होंने कहा कि कृपया मुझे गलत तरीके से पेश नहीं करें। चुनाव आयोग जैसी संवैधानिक संस्था के लिए मेरे मन में बहुत सम्मान है, लेकिन पश्चिम बंगाल में माहौल खराब करना भाजपा की योजना का हिस्सा है।
तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो की टिप्पणियों को भारत की ओर से की जा सकने वाली संभावित सैन्य कार्रवाई की तरफ इशारा माना जा रहा है। तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख ने यह भी कहा कि लोकसभा चुनावों के लिए उनकी पार्टी के उम्मीदवारों की सूची मंगलवार को जारी कर दी जाएगी।

source: India today

ममता ने कहा कि उन्हें लंबी खींची जा रही चुनावी प्रक्रिया से कोई दिक्कत नहीं है, इससे चुनाव कर्मी एवं वोटर परेशान होंगे और उन्हें चिलचिलाती गर्मी का सामना करना पड़ेगा। तृणमूल कांग्रेस के कई नेताओं ने यह भी कहा है कि रमजान के पवित्र महीने के दौरान मतदान होने से रोजा रखने वाले मुस्लिम वोटरों को दिक्कत होगी।
ममता ने कहा कि मैं अपने राज्य के लोगों को जानती हूं। बंगाल के लोगों के लिए मेरे मन में बहुत सम्मान है, लेकिन भाजपा उनके प्रति अनादर दिखा रही है। उन्होंने मेरे और बंगाल के खिलाफ साजिश की है, लेकिन यह उन पर उल्टा पड़ेगा। एक सवाल के जवाब में ममता ने कहा कि सात चरणों में मतदान की घोषणा सिर्फ बिहार, पश्चिम बंगाल और उत्तर प्रदेश के लिए की गई है, जो यह तय करने में अहम भूमिका निभाएगी कि केंद्र में अगली सरकार किसकी बनेगी।

Leave a Comment