Share
Uddhav Thackeray: JNU में हुई हिंसा बिल्कुल 26/11 Terrorist Attack के जैसी

Uddhav Thackeray: JNU में हुई हिंसा बिल्कुल 26/11 Terrorist Attack के जैसी

जवाहर लाल नेहरू विश्विविद्यालय यानी जेएनयू में रविवार को हुई हिंसा पर शिवसेना प्रमुख और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की प्रतिक्रिया आई है। उद्धव ठाकरे ने जेएनयू छात्रों पर हुए हमले की तुलना 26/11 के मुंबई आतंकी हमले से की है। साथ ही उन्होंने महाराष्ट्र के छात्रों को आश्वस्त करते हुए कहा कि यहां उन्होंने कोई भी नुकसान नहीं पहुंचा सकता। गौरतलब है कि रविवार को जेएनयू में कुछ नकाबपोशों ने छात्रों और शिक्षकों पर हमला कर दिया था, जिसमें करीब 20 से अधिक घायल हो गये थे।

ANI

@ANI

Maharashtra Chief Minister Uddhav Thackeray: There is an atmosphere of fear among the students in the country, we all need to come together and instill confidence in them. https://twitter.com/ANI/status/1214100417296027649 

View image on Twitter
ANI

@ANI

Maharashtra Chief Minister Uddhav Thackeray on JNU violence: I was reminded of the 26/11 Mumbai terror attack. Investigation is needed to find out who were these masked attackers (file pic)

View image on Twitter

उद्धव ठाकरे ने कहा कि देश में छात्रों में भय का माहौल है. हम सभी को एक साथ आने की जरूरत है और छात्रों में आत्मविश्वास पैदा किए जाने की जरूरत है. उन्होंने कहा कि मैं महाराष्ट्र के लोगों से कहना चाहता हूं कि वे सुरक्षित हैं  और यहां कोई भी वैसी घटना नहीं होगी.

वहीं महाराष्ट्र के लोक निर्माण मंत्री (PWD) और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अशोक चव्हाण ने कहा कि 26/11 को जो हुआ था वो आतंकवाद था, जेएनयू में जो हुआ वह आतंकित करने की कोशिश थी. 26/11 के आतंकवादी बाहर से आए थे और कल वाले यहां के रहने वाले हैं और आतंक फैला रहे हैं.

बता दें कि जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) में रविवार शाम हिंसा की घटना हुई. जेएनयू छात्र संघ ने दावा किया है कि अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) ने हिंसा को अंजाम दिया है. वहीं, एबीवीपी ने लेफ्ट विंग पर मारपीट करने का आरोप लगाया है. इस हिंसा में छात्र संघ अध्यक्ष आइशी घोष समेत कई छात्र घायल हैं. जेएनयू में फीस बढ़ोतरी को लेकर लंबे समय से प्रोटेस्ट चल रहा है.

जेएनयू के कुलपति एम. जगदीश कुमार ने कहा, ” पूरे घटनाक्रम की विस्तृत रिपोर्ट एचआरडी मंत्रालय को भेज दी गई है। मौजूदा स्थिति की विस्तृत जानकारी देने के लिए प्रशासन के शीर्ष अधिकारी मंत्रालय में मौजूद हैं।

गौरतलब है कि जेएनयू परिसर में रविवार रात उस वक्त हिंसा भड़क गयी थी, जब लाठियों से लैस कुछ नकाबपोश लोगों ने छात्रों तथा शिक्षकों पर हमला कर दिया था और परिसर में संपत्ति को नुकसान पहुंचाया था। इसके बाद प्रशासन को पुलिस को बुलाना पड़ा था। इस हमले में जेएनयू छात्र संघ की अध्यक्ष आइशी घोष सहित कम से कम 28 लोग घायल हुए हैं।

वाम नियंत्रित जेएनयूएसयू और आरएसएस से संबद्ध एबीवीपी इस हिंसा के लिए एक-दूसरे को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं। केन्द्रीय मानव संसाधन मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने जेएनयू छात्रों से विश्वविद्यालय की गरिमा बनाए रखने और परिसर में शांति बनाए रखने का आग्रह किया है।

Leave a Comment