Share
Pulwama Attack के शहीद की पत्नी को मिली जान से मरने की धमकी… क्या इसे मोदी सरकार शहीदों के परिवारों की करेगी मदद ??

Pulwama Attack के शहीद की पत्नी को मिली जान से मरने की धमकी… क्या इसे मोदी सरकार शहीदों के परिवारों की करेगी मदद ??

Pulwana Attack का ज़क्म अभी तक सूखा नहीं है के शहीदों के परिवार पर होरहे ज़ुल्म की खबरे आने लगी हें . आपको याद  होगा ही के किस तरह मोजुदा मोदी सरकार नें जवानों की शहादत का झूठा बदला लेकर पुरे देश में अपनी बहादुरी का डंका बजाया था | लेकिन क्या वह सारी बातें बस उस वक्त तक सीमित थीं ?? क्या अब मोदी सरकार का कर्तव्य नहीं है कि जाकर देखें कि शहीदों के परिवार अब किस हाल में हैं | 

पुलवामा हमले में शहीद सीआरपीएफ जवान प्रदीप यादव की पत्नी नीरज व उसके ससुराल वालों के बीच समझौता करवाने के लिए पुलिस ने सोमवार को दोनों पक्षों को थाने बुलाया। कई घंटे तक बातचीत के बाद कोई हल नहीं निकल पाया। नीरज ने सास, ससुर और देवर पर मारपीट, गालीगलौज, धमकी देने व प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है।

नीरज ने ससुराल वालों पर जान से मारने की धमकी देने का आरोप लगाकर एक और तहरीर दी। वहीं उसके ससुर ने उस पर प्रताड़ित करने व दबाव बनाने का आरोप लगा प्रार्थना पत्र दिया। पुलिस ने दोनों पक्षों को सुलह करने के लिए पांच दिन का समय दिया है।

कल्याणपुर थाने में तहरीर देकर कहा है कि उस पर मकान खाली करने का दबाव बनाया जा रहा है। केंद्र व राज्य सरकार और विभिन्न संगठनों से मिलने वाली आर्थिक सहायता पर अपना हक जता रहे हैं। नीरज यादव ने रविवार को कल्याणपुर थाने पहुंचकर सास, ससुर और देवर पर प्राताड़ित करने के साथ-साथ आर्थिक सहायता हड़पने का आरोप लगा प्रार्थना पत्र दिया था।

जिसके बाद पुलिस ने सोमवार को दोनों पक्षों को थाने बुलाया था। नीरज ने बताया कि जब वह थाने से बाहर निकल रहीं थी तो ससुर व देवर ने उनको रोक लिया। फिर जान से मारने की धमकी देते हुए निकल गए। जिसके बाद नीरज ने फिर एक तहरीर दी। इसपर बड़ा सवाल यह है कि क्या ऐसे मोदी सरकार शहीदों के परिवार के लिए मददगार है ??

सोर्स: अमर उजाला

Leave a Comment