Share
TIME नें मोदी जी को बताया ‘India’s Divider In Chief’ तो उपाधि समझ बधाई देने लगे भक्त ..

TIME नें मोदी जी को बताया ‘India’s Divider In Chief’ तो उपाधि समझ बधाई देने लगे भक्त ..

मशहूर पत्रिका ‘TIME’ द्वारा अपने ताजा अन्तर्राष्ट्रीय संस्करण के कवर पर प्रधानमंत्री Narendra Modi की तस्वीर लगायी है। इस तस्वीर के साथ TIME ने जो हेडलाइन दी है, वो है ‘India’s Divider In Chief’। इसे लेकर भारत में सोशल मीडिया पर काफी कुछ लिखा जा रहा है। वहीं कुछ लोग ऐसे भी हैं, जो बिना इस हेडलाइन का मतलब समझे, इसे PM Modi की एक उपलब्धि बता रहे हैं। दरअसल कुछ लोग ‘India’s Divider In Chief’ को एक सम्मानित अन्तर्राष्ट्रीय उपाधि समझ रहे हैं। जिसके चलते उन्होंने सोशल मीडिया पर इसे लेकर बधाई संदेश देने शुरु कर दिए हैं। ऐसे ही कई Social  पोस्ट सामने आए हैं।

असल में ‘India’s Divider In Chief’ का मतलब बिना समझे उसे PM Modi की उपलब्धि बता Social Media पर फॉरवर्ड करना कोई बड़ी बात भी नहीं हैक्योंकि मोदी है तो मुमकिन है .

नरेंद्र नाथ नाम के यूजर ने अपने वॉल पर उमेश रंजन साहू नाम के भाजपा कार्यकर्ता के फेसबुक पोस्ट का एक फोटो साझा करते हुए लिखा है कि TIME मैगजीन ने मोदीजी पर बहुत बड़ा कवर स्टोरी छापी “डिवाइडर ऑफ इंडिया” कह कर। बीजेपी के एक नेता को लगा कि यह डिवाइडर ऑफ इंडिया कोई ग्लोबल सम्मान टाइप है। बस तुरंत “Modi है तो मुमकिन है” के नारे के साथ उसे गौरव के रूप में बांटने लगे। फिर किसी ने समझाया को डिलीट मारा। इस पर कई लोगो ने चुटकी ली है। किसी ने अंग्रेजी ज्ञान पर सवाल खड़े किए तो किसी ने भक्ति पर।

 

बता दें कि अमेरिकन मैग्जीन TIME ने अपने 20 मई, 2019 के अन्तर्राष्ट्रीय अंक के कवर पर PM Modi को जगह दी है। इस अंक के कवर पर दो हेडिंग दी गई हैं, जिनमें आतिश तासीर की ‘इंडियाज डिवाइडर इन चीफ’ और अमेरिका के राजनैतिक सलाहकार इयान ब्रीमर की ‘Modi द रिफॉर्मर’ शामिल है। हालांकि TIME ने आतिश तासीर के लेख को ज्यादा प्रमुखता से कवर पर जगह दी है। बता दें कि आतिश तासीर भारतीय पत्रकार तवलीन सिंह और पाकिस्तान के दिवंगत राजनेता और बिजनेसमैन सलमान तासीर के बेटे हैं। आतिश ने अपने लेख में लिखा है कि PM Modi अपने बीते कार्यकाल में अच्छा प्रदर्शन करने में नाकाम रहे। तासीर ने ये भी लिखा है कि Modi के कार्यकाल में भारत में धार्मिक राष्ट्रवाद का माहौल बना है।


वहीं दूसरी तरफ अमेरिकी राजनैतिक सलाहकार इयान ब्रीमर ने अपने लेख में PM Modi के आर्थिक मामले में रिकॉर्ड को मिला-जुला बताया है। लेख में कहा गया है कि भारत में अभी बदलाव की जरुरत है और Modi वह शख्स हैं, जो यह करने में सक्षम हैं। उन्होंने चीन, अमेरिका और जापान के साथ रिश्ते सुधारे हैं, साथ ही घरेलू स्तर पर भी उन्होंने अच्छा काम किया है. चुनाव हैं कहीं तारीफ तो कहीं बुरे तो संभव है . अब देखना होगा जनता का मूड क्या है .

Source: Jansatta 

Leave a Comment