Share

अब धोनी नहीं, वर्ल्ड कप में ‘फिनिशर’ होगा टीम इंडिया का यह खिलाड़ी। जाने कौन ?

2019 में आने वाले विश्व कप के लिए हर टीम अपनी कमर कस रही है। और ताज को हासिल करने के लिए हर देश की टीम में फेर बदल जारी है।  ऐसे में बर्डी खबर आरही है की टीम इंडिया का ‘FINISHER ‘ अब धोनी नहीं होंगे बल्कि उनकी जगह लेली गयी है।

आजतक के लेख के अनुसार ,वर्ल्ड कप-2019 से पहले दिनेश कार्तिक का बड़ा बयान आया है. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दूसरे वनडे में जीत दर्ज करने के बाद कार्तिक ने कहा कि भारतीय टीम प्रबंधन ने उन्हें छठे क्रम पर बल्लेबाजी करते हुए मैच फिनिशर की भूमिका सौंपी है. जीत के लिए 299 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम के लिए कार्तिक (नाबाद 25) ने महत्वपूर्ण योगदान दिया. उन्होंने पांचवें विकेट के लिए धोनी (नाबाद 55) के साथ 57 रनों की अटूट साझेदारी कर तीन मैचों की सीरीज को 1-1 से बराबर किया.

source: Hindustan Times

33 साल के कार्तिक ने टीम में फिनिशर की अपनी भूमिका के बारे में पूछे जाने पर कहा, ‘मैंने इसका अभ्यास किया है, इस पर काम कर रहा हूं. यह काफी जरूरी कौशल है. यह ऐसा कौशल है जहां आपको दिमागी तौर पर शांत रहना होता है. अनुभव इसमें काफी मदद करता है. खेल में यह शायद सबसे मुश्किल कौशल है. मैच खत्म करना और विजेता टीम की तरफ होना शानदार होता है.’

उन्होंने कहा, ‘जाहिर है टीम प्रबंधन ने मुझे मेरी भूमिका के बारे में बताया है और वे चाहते है कि मैं इसमें अपना सर्वश्रेष्ठ करूं. वे मेरा समर्थन कर रहे. उन्होंने बताया है कि मैं इसी नंबर पर बल्लेबाजी करूंगा.’ यानी इस साल 30 मई से 14 जुलाई 2019 के दौरान इंग्लैंड और वेल्स में खेले जाने वाले वर्ल्ड कप के लिए दिनेश कार्तिक की जगह निर्धारित कर दी गई है.

source: Hindustan Times

दूसरी तरफ कार्तिक ने पूर्व कप्तान महेद्र सिंह धोनी की खूब तारीफ की. उन्होंने कहा कि वह अब भी जरूरत के मुताबिक विरोधी टीमों पर दबाव बना सकते हैं. कार्तिक ने कहा, ‘मुझे लगता है कि धोनी ने इस सीरीज में शानदार बल्लेबाजी की. यह ऐसी पारी है, जैसी उन्होंने पहले भी कई बार खेली है.’

कार्तिक ने कहा, ‘उन्हें (धोनी को) बल्लेबाजी करते और मैच को खत्म करते देखना शानदार रहा. हमें पता है कि वह दबाव लेते हैं और फिर विरोधी टीम को दबाव में ला देते हैं. यह हमेशा उनकी सबसे बड़ी खासियत रही है और आज आपने उसका सटीक उदाहरण देखा.’ गौरतलब है कि सिडनी में पहले वनडे में उनकी धीमी पारी की काफी आलोचना हुई थी, लेकिन उन्होंने मंगलवार को 54 गेंद में दो छक्कों के साथ नाबाद 55 रन बनाए और अपने आलोचकों को चुप कराया.

 

Leave a Comment