Share

अरुण जेटली को लेकर राहुल गाँधी के ट्वीट पर बीजेपी ने दिया विशेषाधिकार हनन प्रस्ताव, कहा- है गरिमा के खिलाफ|

राज्यसभा में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी के अरुण जेटली पर ट्वीट को लेकर बीजेपी के विशेषाधिकार हनन के प्रस्ताव पर आज राज्यसभा के सभापति विचार कर सकते हैं| कल विशेषाधिकार हनन का प्रस्ताव भूपेंद्र यादव ने दिया था और कहा था कि Arun Jaitley को Jaitlie लिखकर राहुल ने मजाक उड़ाया जो गरिमा के खिलाफ है|
भूपेंद्र यादव के मुताबिक जेटली ने बयान सदन के नेता के तौर पर दिया था| किसी भी सांसद के नाम को जानबूझकर बिगाड़ना उसकी मर्यादा का हनन है| यह पूरा मामला विशेषाधिकार हनन समिति को सौंपा जा सकता है| इस पूरे मामले पर सभापति एम वेंकैया नायडू फैसला करेंगे| 1954 में एनसी चटर्जी के मामले में फैसला हुआ था कि अगर मानहानि करने वाला दूसरे सदन का हो तो भी विचार हो सकता है|बता दें कि गुरुवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने केंद्र में सत्तारूढ़ भाजपा पर संविधान पर हमले करने और राजनीतिक फायदे के लिए झूठ बोलने का आरोप लगाया| उन्होंने दावा किया कि कांग्रेस संविधान तथा प्रत्येक भारतीय के अधिकारों की रक्षा के लिए लड़ती रहेगी|

कांग्रेस के कल स्थापना दिवस के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए राहुल ने यहां कहा, कांग्रेस पार्टी का गौरवशाली इतिहास रहा है| यह एक शताब्दी से अधिक समय से लोगों के भले के लिए काम कर रही है| कांग्रेस ने अपने देशवासियों की मदद से कई उपलब्धियां हासिल की हैं|

 

Leave a Comment