Share

बीजेपी नेता को थप्पड़ जड़ने वाले दबंग आईपीएस अधिकारी देवाशीष की हुई मौत|

 महज छह फीट की उंचाई से नीचे गिरकर घायल हुए आईपीएस देवाशीष की आज मौत हो गई। यह आईपीएस डयूटी के दौरान कुर्सी से गिर गए थे। बताया जा रहा है कि करीब 10 महीने पहले यह हादसा हुआ था, तब से उनका अस्पताल में इलाज चल रहा था। देवाशीष इंपीरियल हाॅस्पिटल में काफी समय भर्ती थे, जहां आज उनकी मौत हो गई। जैसे ही देवाशीष की मौत की खबर मिली तो पूरे पुलिस महकमे में शोक की लहर छा गई।39 वर्षीय देवाशीष बिहार के रहने वाले थे। साल-2013 बैच के आईपीएस देवाशीष की हैदराबाद में ट्रेनिंग हुई। देवाशीष राजस्थान का कैडर मिलते प्रोबेशन पीरियड पर चल रहे थे। देवाशीष अगस्त 2016 से अजमेर जिले में सीओ ब्यावर सिटी के पद पर कार्यरत थे।जानकारी के मुताबिक पुष्कर के ब्रह्मा मंदिर के महंत सोमपुरी के निधन के बाद आईपीएस देवाशीष को उनकी अंतिम यात्रा की सुरक्षा की ड्यूटी में तैनात किया गया था। सुबह के समय जब आईपीएस देवाशीष ब्रह्मा मंदिर के बाहर चबूतरे पर बैठे हुए थे तो उनकी कुर्सी अचानक टूट गई। इस दौरान देवाशीष चबूतरे से गिर गए।घटना के बाद उन्हें पुष्कर के राजकीय अस्पताल में भर्ती करवाया गया। बाद में उनका जयपुर के फोर्टिस अस्पताल में रैफर कर दिया गया, जहां डाॅक्टरों ने बताया कि देवाशीष के सिर और रीढ़ की हड्डी में गंभीर चोट आई। इससे देवाशीष के सरवाइकल डिस्क 6 व 7 के बीच खिसकने से स्पाइनल कोड पर दबाव पड़ गया और उनके शरीर के निचले हिस्से ने काम करना बंद कर दिया।

खास बात ये है कि देवाशीष एक दंबग आईपीएस थे। उन्होंने कोटा और अजमेर में कई अपराधिक वारदातों का खुलासा किया था। लेकिन देवाशीष का नाम उस वक्त चर्चा में आया जब उन्होंने कोटा में एक बीजेपी कार्यकर्ता का थप्पड़ मार दिया था।

यह थप्पड़ उस वक्त मारा जब एक बीजेपी कार्यकर्ता एक पुलिसकर्मी से राजनीति की धौंस दिखाकर बदतमीजी कर रहा था। जब आईपीएस देवाशीष ने यह देखा तो उन्होंने सभी कार्यकर्ताओं के बीच में उस बीजेपी कार्यकर्ता को थप्पड़ मार दिया और शांतिभंग के आरोप में अरेस्ट कर लिया,इस घटना के बाद सभी बीजेपी कार्यकर्ता विरोध पर उतर आए थे और काफी विवाद हुआ था।

Leave a Comment